Baramulla Encounter Updates: बारामुला में 36 घंटे तक चली मुठभेड़ में लश्कर सरगना समेत चार आतंकी मारे गए, तीन के शव मिले   

[ad_1]

अमर उजाला नेटवर्क, श्रीनगर
Published by: विमल शर्मा
Updated Sat, 23 Apr 2022 12:23 AM IST

सार

बारामुला जिले के मलवाह इलाके में करीब 5 आतंकियों के ग्रुप के होने की सूचना मिली थी। इसके बाद ऑपरेशन शुरू किया गया। इसमें चार आतंकी मारे गए। सुरक्षाबलों को तीन आतंकियों के शव बरामद हो गए हैं। 

बारामुला मुठभेड़ स्थल के पास तैनात सुरक्षाबल और वाहन।

बारामुला मुठभेड़ स्थल के पास तैनात सुरक्षाबल और वाहन।
– फोटो : संवाद

ख़बर सुनें

विस्तार

उत्तरी कश्मीर के बारामुला जिले के मलवाह में आतंकियों के साथ जारी मुठभेड़ में शुक्रवार को सुरक्षाबलों ने एक और दहशतगर्द को मार गिराया। साथ ही उस मकान को भी विस्फोट से उड़ा दिया जिसमें आतंकी छिपे थे। करीब 36 घंटे चली इस मुठभेड़ में लश्कर-ए-ताइबा के कमांडर समेत 4 आतंकी मारे गए हैं।  सुरक्षाबलों को केवल तीन ही आतंकियों यूसुफ कांटरू, हिलाल शेख एवं फैसल शेख के शव मिले हैं। चौथे आतंकी का शव अभी बरामद नहीं हुआ है। सुरक्षाबल इलाके में तलाशी अभियान चला रहे हैं। मकान के मलबे की भी सफाई की जा रही है।  

मलवाह इलाके में करीब 5 आतंकियों के छिपे होने की मिली थी जानकारी 

पुलिस को वीरवार को जानकारी मिली थी कि बारामुला जिले के मलवाह इलाके में करीब 5 आतंकियों का एक ग्रुप छुपा हुआ है जिसमें तीन स्थानीय और दो पाकिस्तानी आतंकी शामिल है। इस सूचना के आधार पर सुरक्षाबलों ने तलाशी अभियान चलाया। इस दौरान एक मकान में छुपे आतंकियों ने फायरिंग कर दी जिसमें सेना के तीन जवान घायल हो गए।

उस मकान को विस्फोट से उड़ाया जिसमें आतंकी छिपे थे 

सुरक्षाबलों ने जवाबी कार्रवाई में लश्कर कमांडर यूसुफ कांटरू के साथ एक और आतंकी को मार गिराया। वीरवार रात को तीसरा आतंकी भी मारा गया। शुक्रवार सुबह कश्मीर पुलिस ने ट्वीट कर चौथे आतंकी के मारे जाने जानकारी दी। शुक्रवार सुबह करीब 11 बजे के बाद इलाके में फायरिंग रुक गई। इस बीच सुबह उस मकान को विस्फोट से उड़ा दिया गया जिसमें आतंकी छुपे हुए थे। 

आत्मसमर्पण को नहीं हुए तैयार

बताया जाता है कि सुरक्षाबलों ने आतंकियों को आत्मसमर्पण करने का मौका दिया गया लेकिन वे तैयार नहीं हुए। फैसल के परिवार वालों को उसे आत्मसमर्पण करवाने के लिए बुलाया गया था लेकिन उसने नहीं माना और मारा गया। इस मुठभेड़ में  चार सैन्य जवान, जम्मू-कश्मीर पुलिस का एक जवान व एक नागरिक घायल हुआ है। इनका अस्पताल में इलाज चल रहा है।

मुठभेड़ स्थल से दूर रहें लोग : पुलिस

पुलिस ने जिले के मालवाह कुंजर इलाके के लोगों से मुठभेड़ स्थल से दूर रहने का आग्रह किया। पुलिस ने कहा कि मौके पर एमजीएल, यूएलबी और हथगोले जैसे विस्फोटक होने की संभावना है। अगर मौके पर भीड़ जुटती है तो यह जानलेवा साबित हो सकती है। यह एडवाइजरी मुठभेड़ खत्म होने के बाद जारी की गई है। 

[ad_2]

Source link

Leave a Comment