Gulzar Ki Shayari | gulzar shayari in hindi 2 lines on life

Hello Friends: आज Gulzar Special में पढ़ेंगे गुलज़ार साहब द्वारा लिखे गए Gulzar Quotes,  Gulzar Quotes On Life, Gulzar Shayari,  को Gulzar Shayari Image के साथ.(gulzar shayari in hindi 2 lines on life)


आज की पोस्ट हैं भारतीय सिनेमा जगत के मशहूर गीतकार, विश्व प्रसिद्ध शायर, पटकथा लेखक, फ़िल्म निर्देशक तथा नाटक-कार गुलज़ार जी पर आधारित हैं. गुलज़ार जी को आज के समय में कौन नहीं जानता।

best of gulzar shayari

वक़्त रहता नहीं कहीं टिक कर,
आदत इस की भी आदमी सी है

आप के बाद हर घड़ी हम ने,
आप के साथ ही गुज़ारी है।

बहुत अंदर तक जला देती हैं,
वो शिकायते जो बया नहीं होती।

मैं दिया हूँ! मेरी दुश्मनी तो सिर्फ अँधेरे से हैं,
हवा तो बेवजह ही मेरे खिलाफ हैं।

उसने कागज की कई कश्तिया पानी उतारी और,
ये कह के बहा दी कि समन्दर में मिलेंगे।

कभी जिंदगी एक पल में गुजर जाती हैं,
और कभी जिंदगी का एक पल नहीं गुजरता।

दिल अगर हैं तो दर्द भी होंगा,
इसका शायद कोई हल नहीं हैं।

शायर बनना बहुत आसान हैं,
बस एक अधूरी मोहब्बत की मुकम्मल डिग्री चाहिए।

कुछ जख्मो की उम्र नहीं होती हैं,
ताउम्र साथ चलते हैं, जिस्मो के ख़ाक होने तक।

कौन कहता हैं कि हम झूठ नहीं बोलते,
एक बार खैरियत तो पूछ के देखियें।

gulzar shayari in hindi

कैसे करें हम ख़ुद को तेरे प्यार के काबिल,
जब हम बदलते हैं, तुम शर्ते बदल देते हो।

मैं चुप कराता हूं हर शब उमड़ती बारिश को,
मगर ये रोज़ गई बात छेड़ देती है।

सहमा सहमा डरा सा रहता है,
जाने क्यूं जी भरा सा रहता है।

ख़ुशबू जैसे लोग मिले अफ़्साने में,
एक पुराना ख़त खोला अनजाने में।

जिस की आँखों में कटी थीं सदियाँ,
उस ने सदियों की जुदाई दी है।

आदतन तुम ने कर दिए वादे,
आदतन हम ने ए’तिबार किया।

रात को चाँदनी तो ओढ़ा दो,
दिन की चादर अभी उतारी है।

ये कैसा रिश्ता हुआ इश्क में वफ़ा का भला,
तमाम उम्र में दो चार छ: गिले भी नहीं।

छोटा सा साया था, आँखों में आया था,
हमने दो बूंदों से मन भर लिया।

gulzar shayari in hindi 2 lines on life

महदूद हैं दुआएँ मेरे अख्तियार में,
हर साँस हो सुकून की तू सौ बरस जिये

ग़म मौत का नहीं है,
ग़म ये के आखिरी वक़्त भी,
तू मेरे घर नहीं है।

पलक से पानी गिरा है, तो उसको गिरने दो,
कोई पुरानी तमन्ना, पिंघल रही होगी।

gulzar shayari hindi

दिल के रिश्ते‍‍‍ ✧ हमेशा किस्मत से ही बनते है✧¸
वरना मुलाकात तो रोज ✧ हजारों1000 से होती है✧

कुछ ऐसे हो गए है✧ इस दौर के रिश्ते‍‍‍¸
आवाज अगर तुम ना दो तो ✧ बोलते वह भी ❌नही।

तुझसे कोई शिकवा शिकायत ❌नही है✧
जिंदगी तूने जो भी दिया है✧ वही बहुत है✧।

सुनो…
जब कभी देख लुं तुमको
तो मुझे महसूस होता है कि
दुनिया खूबसूरत है

एक सपने के टूटकर चकनाचूर हो जाने के बाद
दूसरा सपना देखने के हौसले का नाम जिंदगी हैं

तेरे जाने से तो कुछ बदला नहीं,
रात भी आयी और चाँद भी था, मगर नींद नहीं

किसी पर मर जाने से होती हैं मोहब्बत,
इश्क जिंदा लोगों के बस का नहीं

एक बार तो यूँ होगा, थोड़ा सा सुकून होगा
ना दिल में कसक होगी, ना सर में जूनून होगा

ज्यादा कुछ नहीं बदलता उम्र के साथ
बस बचपन की जिद्द समझौतों में बदल जाती

कभी जिंदगी एक पल में गुजर जाती हैं
और कभी जिंदगी का एक पल नहीं गुजरता

सुना हैं काफी पढ़ लिख गए हो तुम
कभी वो भी पढ़ो जो हम कह नहीं पाते हैं

gulzar shayari on love

बिगड़ैल हैं ये यादे
देर रात को टहलने निकलती हैं

दिल अगर हैं तो दर्द भी होंगा,
इसका शायद कोई हल नहीं हैं।

दिन कुछ ऐसे गुज़ारता है कोई,
जैसे एहसान उतारता है कोई।

ये कैसा रिश्ता हुआ इश्क में वफ़ा का भला,
तमाम उम्र में दो चार छ: गिले भी नहीं

कहू क्या वो बड़ी मासूमियत से पूछ बैठे है,
क्या सचमुच दिल के मारों को बड़ी तकलीफ़ होती है

मेरी ज़ात पर फ़क़त इतना अहसान कर दो,
किसी दिन सुबह को मिलो, और शाम कर दो।।

मैं तेरे इश्क़ की छाँव में जल-जलकर,
काला न पड़ जाऊं कहीं,
तू मुझे हुस्न की धूप का एक टुकड़ा दे

कल का हर वाक़िआ तुम्हारा था,
आज की दास्ताँ हमारी है।

बेशूमार मोहब्बत होगी उस बारिश की बूँद को इस ज़मीन से,
यूँ ही नहीं कोई मोहब्बत मे इतना गिर जाता है!

तमाशा करती है मेरी जिंदगी,
गजब ये है कि तालियां अपने बजाते हैं!

तमाशा करती है मेरी जिंदगी,
गजब ये है कि तालियां अपने बजाते हैं!

कहानी शुरू हुई है तो खतम भी होगी
किरदार गर काबिल हुए तो याद रखे जाएंगे..

Gulzar Shayaris, Gulzar Ki Shayari, गुलजार साहब की मशहूर शायरी, Gulzar Hindi Shayari, Romantic Gulzar Shayari,gulzar shayari in hindi 2 lines on life

No Responses

Leave a Comment